बिलासपुर

रेड कार्रवाई :- ऑनलाइन बैटिंग सट्टा के प्लेटफार्म महादेव और रेडीअन्ना के मैनेजर, अकाउंटेंट सहित 2 गिरफ्तार..4 लाख नगदी और दस्तावेज बरामद

रमेश राजपूत

बिलासपुर – उपमहानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पारुल माथुर के द्वारा जुआ, सट्टा, ऑनलाइन सट्टा, अन्य सभी अपराधिक गतिविधि पर पूर्ण अंकुश लगाने के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर राजेंद्र जायसवाल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चकरभाठा गरिमा द्विवेदी के मार्गदर्शन में थाना चकरभाठा में कार्यवाही की जा रही है। ऑनलाइन बैटिंग (सट्टा) के प्लेटफार्म महादेव और रेडीअन्ना से संबंधित आरोपियों की पातासाजी की जा रही थी। थाना चकरभाठा द्वारा आनलाइन बेटिंग प्लेटफार्म की जानकारी प्राप्त कर एसएसपी बिलासपुर पारुल माथुर से विशेष निर्देशन प्राप्त कर ACCU और थाना चकरभाठा की अलग अलग टीम बनाकर रेड कार्यवाही की गई। रेड कार्यवाही में ऑनलाइन बेटिंग प्लेटफार्म महादेव और रेड्डीअन्ना के मैनेजर, अकाउंटेंट, बैंक खाता अरेंज करने वाले कुल 4 व्यक्तियों की गिरफ्तारी हुई है।

जिनके पास से 4 लाख नकद रुपए,2 लैपटॉप, 16 मोबाइल फोन, 9 एटीएम, 3 पैनकार्ड, 6 आईकार्ड, 6 चेक बुक, 4 पास बुक, 2 बुक आहरण और जमा पर्ची जप्त हुई है। इनके ठिकाने में लैपटॉप कंप्यूटर, स्मार्टफोन के साथ अलग-अलग कार्य करने वाले व्यक्ति होने की जानकारी मिली है। पूरे भारत में महादेव और रेडीअन्ना आनलाइन बैटिंग के एक से अधिक ब्रांच (आफिस) होने की जानकारी मिली है, जिनमें कोलकाता, दिल्ली, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उड़ीसा, राजस्थान, हरियाणा, महाराष्ट्र और गोवा से भी संचालित होने की पुख्ता जानकारी मिली है। एक सामान्य ऑफिस की तरह ही इनके ठिकानों में स्टाफ के द्वारा कार्य का वितरण होता है।

दूसरों का बैंक खाता प्राप्त करना, एप्लीकेशन का प्रमोशन करना, सट्टा खेलने वालों को खाता नंबर व व्हाट्सएप नंबर बदल कर प्रोवाइड करना, स्पोर्ट्स, नंबरों आदि माध्यम से दांव लगवाना, सट्टा खेलने के लिए रकम जमा और वितरण करने का हिसाब किताब रखना आदि कार्य को करने वाले व्यक्ति होना पाया गया है। महादेव और रेडीअन्ना ऑनलाइन बैटिंग (सट्टा) व्हाट्सएप, टेलीग्राम एप्लीकेशन और वेबसाइट के माध्यम से इंटरनेट प्लेटफार्म पर उपलब्ध है। अलग-अलग व्हाट्सएप लाइन नंबर से कुल 270 अलग अलग बैंक अकाउंट छत्तीसगढ़ के अलावा अन्य राज्यों के भी मिले हैं। 200 से अधिक VIP मोबाइल नंबर जिनमे व्हाट्सएप एक्टिव है। 10 से अधिक वेबसाइट की जानकारी मिली है। उपरोक्त बैटिंग साइट्स और मोबाइल नंबर को इंटरनेट व टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर के माध्यम से रिमूव, ब्लॉक कराने का कार्य किया जा रहा है। एथिकल हैकिंग के माध्यम से उपरोक्त बैटिंग साइड में सट्टा खेलने वाले लगभग 22,000 व्यक्तियों की जानकारी निकाली गई है जिनमे आगे कार्यवाही की जायेगी।

गिरफ्तार आरोपी –

1 शैलेश जायसवाल पिता केपी जायसवाल उम्र 30 वर्ष, निवासी सुराजी भर्रा, पेंड्रा

2014 में इलेक्ट्रीकल स्ट्रीम से BE पास ।

2 विकास कर्ष पिता अशोक कर्ष उम्र 29 सा गुरदेवा बाकि मोंगरा

कोरबा बी कॉम, शंकराचार्य भिलाई 2015 पास आउट

3 राहुल ढिरही पिता हेमंत कुमार उम्र 22 वर्ष सा इंद्रजीत सिंह महाविद्यालय अकलतरा

Fiter ITI 2019 में

4 सोनाकुमार मरावी पिता वचन उम्र 33 पोड़ी सिरगिट्टी

error: Content is protected !!