रतनपुर

माँ महामाया के दरबार में नाममात्र के शुल्क पर भोजन प्रसाद का वितरण फिर से शुरू…शुक्रवार से दर्शनार्थियों को मिलने लगा लाभ

जुगनू तंबोली

रतनपुर – माँ महामाया मंदिर ट्रस्ट द्वारा एक बार फिर से मंदिर पहुचने वाले दर्शनार्थियों के लिए नाममात्र शुल्क 20 रुपए का कूपन काटकर भरपेट भोजन प्रसाद को ग्रहण किया जा सकता है, जिसकी सेवा ट्रस्ट ने शुक्रवार से शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि कोविड काल के पूर्व मंदिर में यह व्यवस्था जारी थी, वही कोविड के दौरान भी जरूरतमंदों को रोजाना भोजन उपलब्ध कराया जा रहा था, जिसे पैकेट के माध्यम वितरित किया जाता था, वही मंदिर परिसर में बैठाकर भोजन प्रसाद का वितरण बंद कर दिया गया था,

लेकिन वर्तमान के हालात में कोविड संक्रमण के खतरे से बाहर आने के बाद फिर से भोजन प्रसाद की व्यवस्था को बहाल किया गया है, जिसे प्राप्त करने यहाँ आने वाले दर्शनार्थियों को केवल 20 रुपए का कूपन कटाना होगा। मंदिर प्रबंधन की बैठक में पिछले दिनों यह निर्णय लिया गया था,

जिसे आज शुरू कर दिया गया, इस अवसर पर ट्रस्ट के अध्यक्ष आशीष सिंह ने बताया कि लंबे समय से यह महसूस किया जा रहा था कि यहाँ आने वाले दर्शनार्थियों के लिए भोजन की व्यवस्था आस पास कही नही थी, जिसकी वजह से उन्हें परेशान होना पड़ता था,

लिहाज़ा मंदिर प्रबंधन ने इस व्यवस्था को पुनः शुरू कर दिया है, जिसका लाभ यहाँ आने वाले दर्शनार्थियों को मिलने लगा है।

error: Content is protected !!